June 30, 2022

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

अयोध्या 11 जून *प्रधानमंत्री आवास का पैसा खाते से गायब*

*अब्दुल जब्बार एडवोकेट व अम्ब्रेश यादव की रिपोर्ट*

अयोध्या 11 जून *प्रधानमंत्री आवास का पैसा खाते से गायब*

*नही लगी एक भी ईंट*

*पात्र लाभार्थी आवास से वंचित*

*अपात्रो को दिया गया आवास*

*मवई ब्लाक के ग्राम पंचायत मोहम्मदपुर दाऊदपुर गाँव का है मामला*

भेलसर(अयोध्या)रुदौली तहसील क्षेत्र के मवई ब्लाक अंतर्गत ग्राम पंचायत मोहम्मदपुर दाऊदपुर में गरीबों को छत मुहैया कराने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2017-2018 में विकलांग निशा रावत पुत्री राजेश रावत को आवास आवंटन हुआ था और लाभार्थी के खाते में धनराशि भी आ गई थी।आरोप है कि तत्कालीन ग्राम सचिव व ग्राम प्रधान की मिलीभगत से उक्त आवास की धनराशि को निकालकर आपस मे बंदरबांट कर लिया गया।लाभार्थी काफी गरीब व अनपढ़ है।इसी का फायदा उठाकर बैंक खाते से धनराशि निकाल ली गई।जब लाभार्थी को धनराशि निकासी की जानकारी हुई तो पैरों तले जमीन खिसक गई।तब से लेकर आज तक लाभार्थी ब्लाक के चक्कर लगाती रही पर कोई सुनवाई नही हो सकी।वंही दूसरा मामला उसी गांव का सामने आया है जहाँ की निवासी जेबा खातून पत्नी कमरुद्दीन को अपात्र होते हुए भी आवास आवंटन कर देने का आरोप है।जबकि पहले से पक्का मकान व ऑटो रिक्सा है।कई बार शिकायत होने के बावजूद भी आवास को निरस्त नही किया गया।जबकि गांव में बहुत से गरीबों का कच्चा मकान होने के बावजूद आवास नही मिल सका।ऐसे में ग्रामीणों का कहना है कि प्रधान अपने अपात्र चहेतों को ग्राम सचिव से मिलकर आवास दिलवा रहे है।तीसरा मामला उसी ग्राम पंचायत से तूतिनपुरवा मजरे मोहम्मदपुर दाऊदपुर दाऊद पुर का है जंहा एक विकलांग दंपत्ति सावित्री देवी पत्नी मनीराम टीनशेड के नीचे जीवन यापन करने को मजबूर है।टीनशेड में ही खाना बनता है और बरसात में टीनशेड से पानी टपकने की वजह से बने शौचालय में खाना रखा जाता है।इस विकलांग दंपत्ती के पास आय का कोई साधन नही है।खुले आसमान के नीचे जीवन यापन करने को मजबूर है।ऐसे पात्र लोग अधिकारियों की लापरवाही से सरकारी योजनाओं से वंचित है।वहीं पड़ोस के हेमलता पत्नी ओम प्रकाश भी टीनशेड में जीवन यापन करने को मजबूर है।वही इस गांव में स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय दिया गया पर जमीनी हकीकत कुछ और बंया कर रही है।किसी शौचालय में छत नही तो कोई कंडा लकड़ी रख रहा है।सरकार के लाख प्रयास के बाद भी धरातल पर विकास दिखाई नही दे रहा है।गांव के सभी मार्गो पर गंदगी का अम्बार लगा हुआ है।इससे ये साफ जाहिर है कि गांव के विकास के धन का दुरुपयोग हो रहा है।जनता त्रस्त है अधिकारी मस्त है।
इस संबंध में खंड विकास अधिकारी मवई मोनिका पाठक से बात की गई तो उन्होंने बताया कि मामला संज्ञान में आया है जांच कराकर जो भी दोषी है उनके विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी।

You may have missed