July 5, 2022

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

[6/5, 8:13 AM] +91 94155 29848: दिल्ली
-5G मामले में @iam_juhi की अर्जी खारिज
-दिल्ली हाईकोर्ट ने जूही चावला की अर्जी खारिज की
-जूही चावला पर 20 लाख का जुर्माना लगाया
-ऐसा लगता है याचिका पब्लिसिटी के लिए है-कोर्ट
-सुनवाई का लाइव लिंक शेयर करने पर फटकारा
-जूही ने सुनवाई का लिंक ट्विटर पर शेयर किया था।
[6/5, 8:13 AM] +91 94155 29848: *आग लगे तेल के भाव में मामूली गिरावट, दिसंबर तक सामान्य होने के आसार*

तेल के रेट तो महंगाई के मामले में आसमान ही नही छू रहा बल्कि अब तो उससे भी ऊपर पहुंचता नजर आने।लगा है. खबर के मुताबिक, इसके बिल्‍कुल सामान्‍य होने में दिसंबर तक का समय लग सकता है. लेकिन राहत देने वाली बात यह है कि रेट कम होने शुरू हो गए हैं. पिछले कुछ दिनों में सरसों के तेल की कीमत थोक बाजार में 10 से 15 रुपए की कम हुई है. सरकार ने स्‍पष्‍ट किया है कि इंटरनेशनल मार्केट में सोया और पॉम ऑयल के रेट बढ़ने की वजह से कीमतें बढ़ी हैं, लेकिन अब रेट गिरने शुरू हो चुके हैं. ऑयल का उत्‍पादन देश में केवल 40% ही होता है, 60% आयात किया जाता है.

खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण विभाग सचिव सुधांशु पांडेय के अनुसार तेल की कीमतों में इजाफा होने का कारण इंटरनेशनल मार्केट में पॉम और सोया ऑयल महंगा होना है लेकिन अब राहत की बात है कि इंटरनेशनल मार्केट में तेल की कीमतों में गिरावट आनी शुरू हो गई है, इसलिए उम्‍मीद की जा रही है क‍ि सरसों समेत अन्‍य तेल की कीमतें भी खुदरा में नीचें गिरनी शुरू हो जाएंगी या हो चुकी हैं. लेकिन कीमत बिल्‍कुल सामान्‍य होने में थोड़ा समय लग सकता है, संभावना व्‍यक्‍त की जा ही है कि दिसंबर तक कीमतें बिल्‍कुल सामान्‍य हो जाएंगी. देश में ऑयल सीड्स का प्रमुख रूप से आयात मलेशिया, इंडोनेशिया, अर्जेंटीना और अमेरिका से होता है.

ऑयल सीड्स ट्रेडर्स एसोसिएशन दिल्‍ली के उपाध्‍यक्ष हेमंत गुप्‍ता बताते हैं कि पिछले कुछ दिनों में सरसों के तेल की कीमतों में 10 से 15 रुपए प्रति किलो की गिरावट आई है. मौजूदा समय सरसों का तेल 145 से 150 प्रति किलो थोक बाजार में बिक रहा है. उन्‍होंने बताया कि इंटरनेशलन मार्केट में पॉम और सोया ऑयल के बढ़ने का कारण चीन द्वारा जरूरत से कई गुना अधिक खरीदना है. मांग बढ़ने से इंटरनेशलन मार्केट में ऑयल की कीमतें बढ़ी थीं, लेकिन ऑयल के दामों में गिरावट से आम लोगों को भी जल्‍द राहत मिलनी शुरू हो जाएगी.
[6/5, 8:50 AM] +91 94155 29848: *अब्दुल एडवोकेट व डॉ0 मो0 शब्बीर की रिपोर्ट*

*आंकड़ों से खेलना बंद करें योगी सरकार,शिक्षक संघ की सूची स्वीकारे ……आप*

*चुनाव ड्यूटी में संक्रमित होकर दम तोड़ने वाले शिक्षकों के आश्रितों को मिले सरकारी नौकरी और एक करोड़ मुआवजा…. जिलाध्यक्ष*

भेलसर(अयोध्या)आम आदमी पार्टी देहात के जिलाध्यक्ष डाक्टर शौकत अली शाही ने कहा कि अभी हाल ही में सम्पन्न हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव ड्यूटी के दौरान कोरोना संक्रमण की जद में आकर दम तोड़ने वाले सैकड़ों शिक्षा कर्मियों के पारिवारीजनो की भावनाओं से खेलना बंद करके योगी सरकार और सरकार को प्राथमिक शिक्षक संघ की सूची स्वीकार करनी चाहिए।1621 लोगों की सूची के सापेक्ष पहले 3 और अब 1200 लोगों की मौत का आंकड़ा जारी करने की जगह सरकार सभी शिक्षकों के परिवारों को सरकार से 1 करोड़ का मुआवजा देने की मांग आम आदमी पार्टी करती है।शुक्रवार को यह बातें जिलाध्यक्ष डाक्टर शाही ने कहीं।उन्होंने कहा कि पार्टी ने पहले ही सरकार से एक करोड़ रुपये के मुवावजा देने की मांग उठाई थी।उक्त धनराशि सहित पीड़ित परिवार के एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी देने की मांग भी की थी।सैकड़ों मौतें योगी सरकार की चुनावी जिद के परिणाम स्वरूप हुईं हैं।लेकिन कोरोना संक्रमण के बीच पंचायत चुनाव कराकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह भयंकर महामारी को गांव-गांव तक फैलाकर अब इसे छिपाने में लगे हुए है।उन्होंने कहा कि सीएम की जिद के कारण सैकड़ों परिवार का जीवन खतरे में पड़ा।जबकि हाईकोर्ट भी योगी सरकार को इस जिद के लिए लताड़ लगा चुका है कि चुनावी ड्यूटी के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का सही तरीके से निर्वाहन नहीं किया गया।सामने आया है कि राज्य निर्वाचन आयोग की लापरवाही के कारण कई शिक्षामित्र,आशा बहु,आंगनबाड़ी कार्यकर्ता आदि की मौत हो चुकी है और उनके परिवार के लोग सांसों के लिए संघर्ष कर रहे हैं।आम आदमी पार्टी शिक्षामित्रों और कर्मचारियों के साथ खड़ी है।जिन कर्मचारियों की ड्यूटी के दौरान मृत्यु हुई है उनके परिजनों को सरकारी नौकरी और एक करोड़ का मुआवजा दिया जाए और परिवार के एक व्यक्ति को नौकरी दी जाए।जिला अध्यक्ष ने कहा कि आम आदमी पार्टी की मांग है कि कर्मचारियों के संक्रमित परिजनों के इलाज का पूरा खर्च सरकार उठाए।इसी क्रम में पार्टी के पदाधिकारी पीड़ित परिवारों से मुलाकात कर रहे हैं और उन्हें भरोसा दे रहे हैं कि उन्हें न्याय दिलाने की लड़ाई में पार्टी उनके साथ है। मुख्यमंत्री से अपील है कि अगर उनमें जरा भी संवेदना शेष है तो पंचायत चुनाव में महामारी का शिकार होने वाले शिक्षकों के परिवारों का मजाक बनाना बंद करके वह आंकड़ों का यह खेल बंद करें।शिक्षक संघ की 1621 शिक्षकों की सूची स्वीकारते हुए सभी परिवारों को 30 लाख की जगह एक करोड़ का मुआवजा और एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी देने की अविलंब घोषणा करें।
[6/5, 8:50 AM] +91 94155 29848: *अब्दुल जब्बार एडवोकेट व मुजतबा खान*

*आरटीएस कालेज नरौली में विश्व पर्यावरण दिवस पर गोष्ठी आज*

भेलसर(अयोध्या)विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य पर रूदौली क्षेत्र के नरौली गाँव स्थित श्रीकृष्णा आरटीएस कालेज आफ फार्मासिस्ट में एक गोष्ठी का आयोजन किया जाएगा।कार्यक्रम सुबह दस बजे से प्रारंभ होगा।कार्यक्रम में आगामी जुलाई माह के प्रथम सप्ताह होने वाले 30 करोड़ वृक्षारोपण महा अभियान पर विस्तृत रूप से चर्चा होगी।साथ ही वृक्षारोपण कर अभियान का प्रतीकात्मक शुभारम्भ करेंगे।कार्यक्रम में क्षेत्रीय विधायक रामचंद्र यादव मुख्य अतिथि होंगे।ये जानकारी उपक्षेत्रीय वनाधिकारी वीरेन्द्र तिवारी ने दी।

You may have missed